मई 2020

रतलाम। लाकडाउन के महत्व को लेकर कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान की पहल पर प्रशासन द्वारा आयोजित स्लोगन तथा स्टोरी राइटिंग स्पर्धा के विजेता घोषित किए गए हैं। स्टोरी राइटिंग हिंदी तथा अंग्रेजी दोनो वर्गों में प्रथम पुरस्कार 2100 रुपये, द्वितीय पुरस्कार 1500 रुपए तथा तृतीय पुरस्कार 1000 रुपए राशि दी जाएगी। हिंदी स्टोरी राइटिंग स्पर्धा में 6 प्रतिभागियों को 500-500 रुपए सांत्वना पुरस्कार भी दिए जाएंगे।  
     स्पर्धा की संयोजक सहायक कलेक्टर सुश्री तपस्या परिहार ने बताया कि अंग्रेजी स्टोरी राइटिंग में प्रथम पुरस्कार रशीदा सैलाना वाला को, द्वितीय पुरस्कार काटजू नगर रतलाम के परम लखानी को तथा तृतीय पुरस्कार काटजू नगर की ही पुरवा कटारे को चयनित किया गया है। हिंदी स्टोरी राइटिंग में प्रथम पुरस्कार ग्राम चौराना के अर्जुनसिंह पवार, द्वितीय पुरस्कार रतलाम के मुकेश कोठारी तथा तृतीय पुरस्कार के लिए ग्राम बासीद्रा के रमेश गहलोत को चयनित किया गया है। सुश्री परिहार ने बताया कि स्लोगन स्पर्धा में प्रथम पुरस्कार 1000 रुपए, द्वितीय पुरस्कार 800 तथा तृतीय पुरस्कार के रूप में 500 रूपए की राशि विजेता को दी जाएगी। 
       हिंदी स्टोरी राइटिंग में सांत्वना पुरस्कार के लिए रतलाम के अल्ताफ हुसैन त्रिमूर्ति नगर, रतलाम के संजय पाठक कस्तूरबा नगर, रतलाम के चंदन गिरधानी ईदगाह रोड, रतलाम की डॉक्टर रीना रवि मालपानी, सेठों की गली जावरा के सतीश सेठिया तथा टीआईटी रोड रतलाम की उपासना अंकित जैन को चयनित किया गया है। ज्ञातव्य है कि लॉकडाउन के महत्व पर जिला प्रशासन द्वारा स्केचिंग, पेंटिंग, शॉर्ट फिल्म निर्माण, स्टोरी राइटिंग तथा स्लोगन प्रतियोगिताएं आयोजित की गई थी। स्केचिंग, पेंटिंग तथा शॉर्ट फिल्म निर्माण के विजेताओं की घोषणा पूर्व में ही की जा चुकी है। 
 स्लोगन स्पर्धा के विजेता 
जिला प्रशासन द्वारा लॉक डाउन के महत्व पर आयोजित स्लोगन स्पर्धा के विजेता इस प्रकार है- 
  1. त्रिवेणी रोड रतलाम के लोकेश चौहान को प्रथम पुरस्कार, 
  2. कस्तूरबा नगर रतलाम के राजेंद्र चतुर्वेदी को द्वितीय पुरस्कार तथा 
  3. भरावा की कुई मार्ग रतलाम के अमीर अंसारी को तृतीय पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है।
Ratlam News- लाकडाउन पर स्लोगन तथा स्टोरी राइटिंग स्पर्धा के विजेता घोषित

Ratlam Samachar- लाकडाउन पर स्लोगन तथा स्टोरी राइटिंग स्पर्धा के विजेता घोषित


लाकडाउन पर स्लोगन तथा स्टोरी राइटिंग स्पर्धा के विजेता घोषित

रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें
और पड़े
शेयर

रतलाम। मेडिकल कॉलेज स्थित कोविड-19 से स्थानीय जावरा रोड की रहवासी एक ऐसी बुजुर्ग महिला बकरीदन बी ने कोरोना से जंग जीती है जो 75 वर्ष की हो चुकी है। इसके अलावा वे अस्थमा की भी पुरानी पेशेंट है, उनको ब्लड प्रेशर की भी शिकायत है लेकिन उन बुजुर्ग महिला ने अपनी हिम्मत और हौसले से कोरोना से जंग जीतकर समाज को संदेश दिया है कि कोरोना से डरे नहीं, अपना आत्मविश्वास बनाए रखें। हिम्मत और मजबूती के साथ कोरोना का सामना करें, जीत अवश्य मिलेगी। सोमवार को जब वे कोविड-19 हॉस्पिटल से स्वस्थ होकर बाहर निकली तब उनका हौसला देखने लायक था। उन्होंने उत्साह के साथ अपने दोनों हाथों से मौजूद व्यक्तियों का अभिवादन किया। 
        उन्होंने हॉस्पिटल में डाक्टर तथा पैरामेडिकल स्टाफ एवं नर्सेज द्वारा की गई देखभाल की भी तारीफ की। बातचीत में बताया कि हॉस्पिटल में उनके सहित सभी मरीजों का पूरा ख्याल रखा गया। खाना, चाय-नाश्ता, मेडिसिन सभी टाइम टू टाइम मिलता था। स्टाफ का व्यवहार भी बेहद अपनत्व से भरा था, स्टाफ पूरे समय उनको दादी कहकर बुलाता रहा और मेरे मन में भी उन सबके लिए अपने बेटे, बेटियों, पोते, पोतियो जैसा अपनापन है।

Ratlam News- 75 वर्षीय अस्थमा पेशेंट ने हौसले के साथ कोरोना से जंग जीती

रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें
और पड़े
शेयर

प्रायोजित लिंक्स

# ट्रेंडिंग

[random][carousel1 autoplay]

Asha News

{picture#YOUR_PROFILE_PICTURE_URL} YOUR_PROFILE_DESCRIPTION

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.