Articles by "सामाजिक"

Showing posts with label सामाजिक. Show all posts

रतलाम। लाकडाउन के महत्व को लेकर कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान की पहल पर प्रशासन द्वारा आयोजित स्लोगन तथा स्टोरी राइटिंग स्पर्धा के विजेता घोषित किए गए हैं। स्टोरी राइटिंग हिंदी तथा अंग्रेजी दोनो वर्गों में प्रथम पुरस्कार 2100 रुपये, द्वितीय पुरस्कार 1500 रुपए तथा तृतीय पुरस्कार 1000 रुपए राशि दी जाएगी। हिंदी स्टोरी राइटिंग स्पर्धा में 6 प्रतिभागियों को 500-500 रुपए सांत्वना पुरस्कार भी दिए जाएंगे।  
     स्पर्धा की संयोजक सहायक कलेक्टर सुश्री तपस्या परिहार ने बताया कि अंग्रेजी स्टोरी राइटिंग में प्रथम पुरस्कार रशीदा सैलाना वाला को, द्वितीय पुरस्कार काटजू नगर रतलाम के परम लखानी को तथा तृतीय पुरस्कार काटजू नगर की ही पुरवा कटारे को चयनित किया गया है। हिंदी स्टोरी राइटिंग में प्रथम पुरस्कार ग्राम चौराना के अर्जुनसिंह पवार, द्वितीय पुरस्कार रतलाम के मुकेश कोठारी तथा तृतीय पुरस्कार के लिए ग्राम बासीद्रा के रमेश गहलोत को चयनित किया गया है। सुश्री परिहार ने बताया कि स्लोगन स्पर्धा में प्रथम पुरस्कार 1000 रुपए, द्वितीय पुरस्कार 800 तथा तृतीय पुरस्कार के रूप में 500 रूपए की राशि विजेता को दी जाएगी। 
       हिंदी स्टोरी राइटिंग में सांत्वना पुरस्कार के लिए रतलाम के अल्ताफ हुसैन त्रिमूर्ति नगर, रतलाम के संजय पाठक कस्तूरबा नगर, रतलाम के चंदन गिरधानी ईदगाह रोड, रतलाम की डॉक्टर रीना रवि मालपानी, सेठों की गली जावरा के सतीश सेठिया तथा टीआईटी रोड रतलाम की उपासना अंकित जैन को चयनित किया गया है। ज्ञातव्य है कि लॉकडाउन के महत्व पर जिला प्रशासन द्वारा स्केचिंग, पेंटिंग, शॉर्ट फिल्म निर्माण, स्टोरी राइटिंग तथा स्लोगन प्रतियोगिताएं आयोजित की गई थी। स्केचिंग, पेंटिंग तथा शॉर्ट फिल्म निर्माण के विजेताओं की घोषणा पूर्व में ही की जा चुकी है। 
 स्लोगन स्पर्धा के विजेता 
जिला प्रशासन द्वारा लॉक डाउन के महत्व पर आयोजित स्लोगन स्पर्धा के विजेता इस प्रकार है- 
  1. त्रिवेणी रोड रतलाम के लोकेश चौहान को प्रथम पुरस्कार, 
  2. कस्तूरबा नगर रतलाम के राजेंद्र चतुर्वेदी को द्वितीय पुरस्कार तथा 
  3. भरावा की कुई मार्ग रतलाम के अमीर अंसारी को तृतीय पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है।
Ratlam News- लाकडाउन पर स्लोगन तथा स्टोरी राइटिंग स्पर्धा के विजेता घोषित

Ratlam Samachar- लाकडाउन पर स्लोगन तथा स्टोरी राइटिंग स्पर्धा के विजेता घोषित


लाकडाउन पर स्लोगन तथा स्टोरी राइटिंग स्पर्धा के विजेता घोषित

रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

रतलाम। मेडिकल कॉलेज स्थित कोविड-19 से स्थानीय जावरा रोड की रहवासी एक ऐसी बुजुर्ग महिला बकरीदन बी ने कोरोना से जंग जीती है जो 75 वर्ष की हो चुकी है। इसके अलावा वे अस्थमा की भी पुरानी पेशेंट है, उनको ब्लड प्रेशर की भी शिकायत है लेकिन उन बुजुर्ग महिला ने अपनी हिम्मत और हौसले से कोरोना से जंग जीतकर समाज को संदेश दिया है कि कोरोना से डरे नहीं, अपना आत्मविश्वास बनाए रखें। हिम्मत और मजबूती के साथ कोरोना का सामना करें, जीत अवश्य मिलेगी। सोमवार को जब वे कोविड-19 हॉस्पिटल से स्वस्थ होकर बाहर निकली तब उनका हौसला देखने लायक था। उन्होंने उत्साह के साथ अपने दोनों हाथों से मौजूद व्यक्तियों का अभिवादन किया। 
        उन्होंने हॉस्पिटल में डाक्टर तथा पैरामेडिकल स्टाफ एवं नर्सेज द्वारा की गई देखभाल की भी तारीफ की। बातचीत में बताया कि हॉस्पिटल में उनके सहित सभी मरीजों का पूरा ख्याल रखा गया। खाना, चाय-नाश्ता, मेडिसिन सभी टाइम टू टाइम मिलता था। स्टाफ का व्यवहार भी बेहद अपनत्व से भरा था, स्टाफ पूरे समय उनको दादी कहकर बुलाता रहा और मेरे मन में भी उन सबके लिए अपने बेटे, बेटियों, पोते, पोतियो जैसा अपनापन है।

Ratlam News- 75 वर्षीय अस्थमा पेशेंट ने हौसले के साथ कोरोना से जंग जीती

रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

रतलाम। रतलाम नगर निगम परिसर में महिलाओं द्वारा संचालित किए जाने वाले तेजस्वी कैफे का शुभारंभ बुधवार को कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान, श्रीमती यास्मीन शेरानी द्वारा फीता काटकर किया गया। राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन से जुड़ी 10 महिलाओं द्वारा संचालित किए जा रहे तेजस्वी कैफे में स्वल्पाहार तथा भोजन उचित दरों पर आमजन को मिल सकेगा। इस कैफे के जरिए गरीब कमजोर वर्गों की महिलाएं अपनी आत्मनिर्भरता और समृद्धि की ओर अग्रसर हुई है। तेजस्वी कैफे के लिए नगर निगम द्वारा महिला समूह को रेंट पर स्थान उपलब्ध कराया गया है। कैफे के लिए फर्नीचर, बर्तन तथा अन्य सामग्री महिला समूह द्वारा अपनी बचत राशि से जुटाई गई है। समूह के अध्यक्ष सफिया कुरेशी है, सचिव हेमलता मिश्रा है। 
         सदस्यों में आशा मंडावरा, सोनम प्रजापति, लता जायसवाल, योगिता, शीला गवई, पिंकी दुबे, परवीन खान तथा तस्लीम खान सम्मिलित हैं। यह सभी महिलाएं रतलाम के नयागांव क्षेत्र की रहने वाली है। कैफे का संचालन सुबह 9:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक किया जाएगा। यहां पर चाय, कचोरी, समोसा, नमकीन, मिठाई इत्यादि के अलावा उचित दर पर भोजन की व्यवस्था भी रहेगी। शुभारंभ अवसर पर सहायक कलेक्टर सुश्री तपस्या परिहार, श्री राजेश पुरोहित, श्री शेरू पठान भी उपस्थित थे। इस अवसर पर कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने बताया कि जिले में गरीब एवं कमजोर वर्गों की महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में आगे बढ़ाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं। जिला पंचायत परिसर में भी स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा पंचायत केफे संचालित किया जा रहा है। इस कड़ी में आगे और भी कार्य किए जाएंगे।



रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

रतलाम। मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना अंतर्गत आगामी 26 फरवरी को रतलाम से यात्री जाएंगे। यात्रा के लिए आवेदन देने की अंतिम तिथि 20 फरवरी है। रतलाम से 200 यात्री सम्मिलित होंगे। सीईओ जिला पंचायत श्री संदीप केरकेट्टा ने बताया की योजना के तहत वरिष्ठ नागरिक जो 60 वर्ष से अधिक आयु के हैं जो आयकरदाता नहीं है, पात्र होंगे। पूर्व में यात्रा हेतु जिन व्यक्तियों का चयन नहीं हुआ है, उनके आवेदन पत्र यथावत रहेंगे और भविष्य में होने वाली इन्हीं स्थानों की यात्रा के लिए उन व्यक्तियों को पुनः आवेदन करने की आवश्यकता नहीं होगी। व्यक्ति केवल यह आवेदन देगा कि वह नवीन तिथि जिसके लिए लाटरी निकाली जा रही है, पर यात्रा करने हेतु सहमत है। पूर्व के आवेदन पत्रों, नवीन आवेदन पत्रों को सम्मिलित कर नवीन यात्रा के लिए लाटरी निकाली जाएगी। आवेदन निकटतम तहसील, स्थानीय निकाय, जनपद कार्यालय पर जमा किए जा सकेंगे। यात्रियों के स्वास्थ्य परीक्षण हेतु एक शासकीय डाक्टर की ड्यूटी लगाना सुनिश्चित किया जाएगा। ड्यूटी डाक्टर यदि चाहे तो अपनी पत्नी को यात्रा में साथ ले जा सकते हैं। डाक्टर एवं उनकी पत्नी आवंटित कोटे में सम्मिलित नहीं माने जाएंगे। डाक्टर का मोबाइल नम्बर आईआरसीटीसी को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे।
           यदि जिले को आवंटित निर्धारित कोटे से अधिक आवेदन प्राप्त होते हैं तो ऐसी स्थिति में यात्रियों का चयन कम्प्यूटराईज्ड लाटरी द्वारा किया जाएगा। निर्धारित कोटे से 10 प्रतिशत अतिरिक्त तीर्थ यात्रियों की पृथक से सूची तैयार करेंगे। किसी कारण से कतिपय तीर्थ यात्री यात्रा में जाने में असमर्थ रहते हैं तो ऐसी स्थिति में प्रतीक्षा सूची के अनुक्रम अनुसार तीर्थ यात्रियों को यात्रा पर भेजे जा सकते हैं। इसी प्रकार किसी जिले को आवंटित यात्रियों का कोटा पूर्ण नहीं होने पर उसे अन्य जिले की प्रतीक्षा सूची, प्राप्त आवेदनों में पूर्ति की जा सकेंगी। 65 वर्ष से अधिक आयु के पति-पत्नी यदि साथ यात्रा कर रहे हैं तो उन्हें भी अनुरक्षक साथ ले जाने की पात्रता है। इसी प्रकार दिव्यांग (60 प्रतिशत विकलांग) व्यक्ति भी इस यात्रा हेतु पात्र है (बशर्ते कि वह यात्रा करने हेतु अन्यथा सक्षम है) तथा उस पर आयु बंधन लागू नहीं होगा। दिव्यांग (60 प्रतिशत विकलांग) व्यक्ति को भी अनुरक्षक साथ ले जाने की पात्रता है।

Ratlam News- वैष्णो देवी के लिए रतलाम से 26 फरवरी को तीर्थ यात्रा रवाना होगी

रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

रतलाम। शहर के मातृ एवं शिशु चिकित्सालय में अस्थाई पुलिस सहायता केंद्र प्रारंभ किया गया है। यहां की आवश्यकता को देखते हुए इस पुलिस सहायता केंद्र का आरंभ सोमवार शाम किया गया। कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान तथा पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी की उपस्थिति में डिप्टी कलेक्टर सुश्री शिराली जैन तथा सिविल सर्जन डा. आनंद चंदेलकर ने फीता काटकर सहायता केंद्र प्रारंभ किया, यहां 24 घंटे पुलिस की तैनाती रहेगी। केंद्र पर आवश्यक हेल्पलाइन तथा नंबर उपलब्ध रहेंगे।
कलेक्टर ने निरीक्षण किया
कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने मातृ एवं शिशु चिकित्सालय परिसर में भ्रमण कर विस्तृत निरीक्षण किया। उन्होंने बच्चों की गहन चिकित्सा इकाई तथा वार्ड देखें। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने सिविल सर्जन डॉ. चंदेलकर को निर्देशित किया कि चिकित्सालय में प्रत्येक बच्चे के लिए सिंगल बेड की व्यवस्था हो, मशीनें प्रत्येक समय चालू अवस्था में उपलब्ध रहें। कलेक्टर ने प्री-बोर्न वार्ड में और अधिक बेड की व्यवस्था के निर्देश सिविल सर्जन को दिए। साथ ही 24 घंटे डॉक्टर्स की उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा। बताया गया कि चिकित्सालय में गहन प्रसूता केयर यूनिट भी शीघ्र आरंभ की जाने वाली है।

Ratlam News-मातृ एवं शिशु चिकित्सालय में पुलिस सहायता केंद्र आरंभ

Ratlam News-मातृ एवं शिशु चिकित्सालय में पुलिस सहायता केंद्र आरंभ

रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें


सैलाना, रतलाम। राज्य शासन आदिवासियों की बेहतरी के लिए दृढ़ संकल्पित होकर कार्य कर रहा है। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने छिंदवाड़ा में आयोजित कार्यक्रम द्वारा आदिवासी समुदाय को कई सौगातें दी है। आदिवासी परिवार अपने उज्जवल भविष्य के लिए बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान देवें। यह बात विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर जिले के सैलाना में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए स्थानीय विधायक श्री हर्षविजय गहलोत ने कही। इस अवसर पर जनपद पंचायत उपाध्यक्ष श्री रूप  भगोरा, कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान, पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी, एसडीएम श्रीमती कामिनी ठाकुर तथा बड़ी संख्या में आदिवासी समुदाय उपस्थित था। विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर जिले के बाजना तथा बिरमावल में भी कार्यक्रम आयोजित किए गए।  
    सैलाना में विधायक श्री हर्ष विजय गहलोत ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि जनसंख्या बढ़ने के साथ ही परिवारों के पास कृषि भूमि का आकार निरंतर छोटा होता जा रहा है, इसलिए आदिवासी समाज मात्र खेती पर ही निर्भर नहीं रहे  बल्कि अपने भविष्य के लिए बच्चों की शिक्षा और दिक्षा पर महत्वपूर्ण रूप से ध्यान देवें। वर्तमान समय में शिक्षा का सबसे ज्यादा महत्व है। आदिवासी समुदाय प्रकृति से जुड़ा है इस समुदाय ने सदैव प्रकृति की रक्षा की है समुदाय को जल जंगल जमीन के साथ ही संस्कृति को भी सहेज कर रखना है।
      कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ द्वारा विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर छिंदवाड़ा में आयोजित कार्यक्रम में दिए गए। उद्बोधन का सीधा प्रसारण एलईडी के माध्यम से देखा सुना गया। इस अवसर पर आदिवासी समुदाय के प्रतिभावान बच्चों को पुरस्कृत  किया गया। जनजाति गीत, नृत्य आदिवासी युवाओं द्वारा प्रस्तुत किए गए। कुरीतियों के विरुद्ध नाटक का मंचन भी आदिवासी बच्चों द्वारा किया गया।

vishwa-aadiwasi-diwas-ratlam-राज्य शासन आदिवासियों की बेहतरी के लिए दृढ़ संकल्पित - विधायक श्री गहलोतvishwa-aadiwasi-diwas-ratlam-राज्य शासन आदिवासियों की बेहतरी के लिए दृढ़ संकल्पित - विधायक श्री गहलोत

vishwa-aadiwasi-diwas-ratlam-राज्य शासन आदिवासियों की बेहतरी के लिए दृढ़ संकल्पित - विधायक श्री गहलोत
रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

रतलाम। प्रदेश में नागरिकों की सुविधा के लिये लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के सभी चिकित्सालय में चिकित्सक सुबह 9 से शाम 4 बजे तक ओपीडी में मरीजों का उपचार करेंगे। ओपीडी में होने वाला पंजीयन शाम 3.30 बजे तक किसी भी स्थिति में बंद नहीं किया जायेगा। चिकित्सालयों में अब खून-पेशाब की जाँच एवं एक्स-रे की सुविधा के लिये पेथालॉजी लैब भी सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक खुली रहेगी। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा आज जारी आदेश में चिकित्सालयों के समय का पुनर्निर्धारण करते हुए चिकित्सालयों में अन्य व्यवस्थाओं एवं उपचार आदि की प्रक्रिया से जुड़े मेडिकल स्टॉफ की ड्यूटी के संबंध में विस्तृत निर्देश दिये गये हैं। चिकित्सालय में सुबह 9 से शाम 4 बजे तक ओपीडी के समय में दोपहर 1.30 से 2.15 तक भोजन अवकाश रहेगा।  
        सामान्य दिनों के साथ रविवार एवं अवकाश दिवसों में जिला एवं सिविल चिकित्सालयों में आपातकालीन ओपीडी 24 घंटे खुली रहेगी। सभी विशेषज्ञ और चिकित्सक सुबह 9 से 11 बजे तक अपने वार्डों में राउण्ड लेंगे। सप्ताह में यदि दो दिन का निरंतर शासकीय अवकाश होता है, तो उसमें से दूसरे अवकाश के दिन नियमित ओपीडी सुबह 9 से 11 बजे तक खुली रहेगी। चिकित्सालयों में निरंतर दो दिन नियमित ओपीडी बंद नहीं रहेगी। चिकित्सालयों में अन्तः रोगी विभाग सामान्य दिनों में वार्ड एवं पलंग के प्रभारी सभी चिकित्सक एवं विशेषज्ञ अपने-अपने वार्ड का राउण्ड इस प्रकार सुनिश्चित करेंगे कि ओपीडी सेवाएँ प्रभावित नहीं हों। 
शासकीय चिकित्सालयों में सुबह 9 से शाम 4 बजे तक ओपीडी, एक्स-रे, पैथालॉजी की सुविधा शुरू        आपातकालीन सेवाएँ जिला एवं सिविल चिकित्सालयों में चौबीस घंटे उपलब्ध रहेंगी। इन चिकित्सालयों में सुबह 8 से दोपहर 2 बजे, दोपहर 2 से रात्रि 8 बजे और रात्रि 8 से सुबह 8 बजे की तीन शिफ्ट रहेगी। इमरजेंसी में आने वाले किसी भी रोगी को (भले ही वह छोटी बीमारी/लक्षण के उपचार के लिये आया हो) जाँच एवं उपचार करने से मना नहीं किया जायेगा। चिकित्सालयों का जाँच (पेथालॉजी, एक्स-रे एवं बॉयोकेमिकल) विभाग भी सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक खुला रहेगा। फास्टिंग सेम्पल कलेक्शन के लिये लेब टेक्नीशियन सुबह 8 बजे से उपस्थित रहेगा। सुबह 11 बजे तक लिये गये सेम्पल की रिपोर्ट उसी दिन दोपहर एक बजे तक और पूर्वान्ह 11 से दोपहर 2 बजे के बीच लिये गये सेम्पल्स की रिपोर्ट उसी दिन दोपहर 3 से शाम 4 बजे तक दी जायेगी। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा जारी आदेश में चिकित्सकों, विशेषज्ञों की ड्यूटी के संबंध में भी स्पष्ट एवं विस्तृत निर्देश दिये गये हैं, ताकि किसी मेडिकल एवं पैरामेडिकल स्टॉफ को परिवर्तित व्यवस्था से असुविधा नहीं हो।
रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

रतलाम। कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान के निर्देश पर संयुक्त दल द्वारा रतलाम नगर में विभिन्न खाद्य प्रतिष्ठानों से जांच के लिए नमूने प्राप्त किए गए। 30 मई को सहायक कलेक्टर सुश्री तपस्या परिहार के साथ खाद्य आपूर्ति विभाग, खाद्य एवं औषधि प्रशासन तथा नगर निगम के संयुक्त अमले द्वारा मिठाई एवं बर्फ फैक्ट्री से नमूने लिए गए। जिला आपूर्ति अधिकारी श्री विवेक सक्सेना ने बताया कि संयुक्त दल द्वारा पावर हाउस रोड स्थित रतलाम आइस फैक्ट्री तथा बंजली स्थित व्यास आइस फैक्ट्री से बर्फ के नमूने लिए गए। 
       इसी प्रकार दो बत्ती क्षेत्र में बालाजी स्वीट्स से मिठाई के नमूने तथा टॉप एंड टाउन से आइसक्रीम के नमूने प्राप्त किए गए। श्री सक्सेना ने बताया कि जिले में दूषित खाद्य पदार्थों की बिक्री के विरुद्ध जारी अभियान आगामी दिनों की सतत् चलेगा। संयुक्त दल में सहायक आपूर्ति अधिकारी श्री उमेश पांडे, खाद्य सुरक्षा अधिकारी द्वय श्री आर.आर सोलंकी, श्रीमती ज्योति बघेल, सहायक खाद्य अधिकारी श्री मोहित मेघवंशी तथा नगर निगम के स्वास्थ्य निरीक्षक श्री सिंह सम्मिलित थे।

रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें


रतलाम। मम्मी पापा आप 19 मई को अपना वोट देने जरूर जाएं जितना ज्यादा मतदान होगा उतनी ही अच्छी सरकार बनती है। रतलाम के सैलाना रोड स्थित गुरु तेग बहादुर एकेडमी के बच्चों ने यह अपील अपने मम्मी-पापा को लिखे पत्रों में की। 25 अप्रैल को जिलेभर में स्कूलों के बच्चों द्वारा लोकसभा निर्वाचन में मतदान का आग्रह करते हुए अपने माता-पिता को पाती लिखी गई। श्री गुरु तेग बहादुर स्कूल में लगभग 300 बच्चों द्वारा यह पाती लिखी गई। इस अवसर पर कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती रुचिका चौहान तथा जिला पंचायत के सीईओ श्री सोमेश मिश्रा द्वारा भी स्कूल पहुंचकर बच्चों का उत्साहवर्धन किया गया। 
        श्रेष्ठ पत्र लिखने वाले बच्चों को पुरस्कृत भी किया गया। प्रथम पुरस्कार कक्षा सातवीं की बालिका वंशिका बोरासी को दिया गया। द्वितीय पुरस्कार कक्षा 5 वीं की बालिका ध्रुवी जोशी तथा तृतीय पुरस्कार कक्षा छठी के बालक पवित्र वाधवा को मिला। कलेक्टर श्रीमती चौहान ने इस अवसर पर बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि लोकसभा निर्वाचन के अवसर पर आगामी 19 मई को आपके माता-पिता एवं सभी पात्र मतदाता रिश्तेदारों को अपने मताधिकार का उपयोग करने के लिए आग्रह करें। 
    सीईओ जिला पंचायत श्री सोमेश मिश्रा ने भी बच्चों से आग्रह किया कि वह अपने पालक तथा परिचित रिश्तेदारों को मताधिकार का उपयोग करने के लिए बताएं। इस दौरान डीपीसी श्री आर.के. त्रिपाठी, सहायक संचालक महिला बाल विकास सुश्री अंकिता पंड्या, स्कूल प्राचार्य डॉ. रेखा शास्त्री तथा विद्यालय स्टाफ उपस्थित था।

ratlam news-तेग बहादुर स्कूल के 300 बच्चों ने अपने पालकों को लिखी पाती
रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

More From Web

Trending

[random][carousel1 autoplay]

Asha News

{picture#https://4.bp.blogspot.com/-YMIuSgSgens/XOKRBeMKtXI/AAAAAAAAWgk/ywHahz7uRxgec-Dk0dl5fwvZ-D5OxvtgQCK4BGAYYCw/s113/ashanews.jpg} Asha News

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.