June 2019

रतलाम। जिले में वर्ष 2019 में श्रेष्ठ परिणाम देने वाले प्राचार्य तथा शिक्षक शनिवार को एक कार्यक्रम में सम्मानित किए गए। कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान द्वारा जिले के 25 प्राचार्य तथा 30 शिक्षकों को कक्षा 10वीं तथा 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में उत्कृष्ट परिणामों के लिए सम्मानित किया गया। इस अवसर पर सीईओ जिला पंचायत श्री सोमेश मिश्रा, जिला शिक्षा अधिकारी श्री अमर वरदानी, डीपीसी श्री आरके त्रिपाठी ,सहायक आयुक्त जनजाति कार्य विभाग श्री आर एस परिहार भी उपस्थित थे। 
        सम्मानित प्राचार्य तथा शिक्षकों को स्मृति चिन्ह तथा प्रमाण पत्र प्रदान किए गए इस अवसर पर कलेक्टर श्रीमती चौहान ने कहा कि चुनाव कार्यों में तत्परता एवं मुस्तैदी से अपनी ड्यूटी निभाने के बावजूद शिक्षकों द्वारा उत्कृष्ट कार्य किया जा कर जिले को शिक्षा के क्षेत्र में नया आयाम दिया गया है। इस वर्ष रतलाम जिला बोर्ड परीक्षा परिणामों में छठे स्थान पर रहा है अब सूक्ष्मकारी योजना तैयार करके जिले को प्रदेश में प्रथम स्थान पर लाने के लिए हम सभी जुट जाएं ।उन्होंने सभी शिक्षकों को अच्छे परिणामों के लिए बधाई दी। 
       सीईओ जिला पंचायत श्री सोमेश मिश्रा ने संबोधित करते हुए कहा कि स्कूलों में शिक्षा का अधिकार गणवेश वितरण छात्रवृत्ति वितरण इत्यादि सभी ऑनलाइन कार्यों में प्राचार्य एवं शिक्षक समय सीमा का ध्यान रखें। स्कूलों में वार्षिक कार्यों का कैलेंडर तैयार किया जाए। उनकी समय सीमा निर्धारित करते हुए अपने दायित्वो का निर्वहन करें। जिला शिक्षा अधिकारी श्री अमर वरदानी ने शैक्षिक अभी उत्थान योजना के तहत आयोजित प्राचार्य शिक्षक सम्मान समारोह की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दिनभर चली कार्यशाला में स्कूलों में ब्रिज कोर्स के सुनियोजित ढंग से संचालन तथा शिक्षा विभाग में लागू शैक्षणिक योजनाओं के समुचित क्रियान्वयन पर प्रशिक्षण दिया गया।


रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

रतलाम/जावरा। जावरा पुलिस एक मामले में जांच पड़ताल कर रही थी की तभी पुलिस के हाथ एक नया केस लग गया। हाथोहाथ पुलिस ने इसकी पडताल की तो मोबाइल धोखाधडी का एक बड़ा रैकेट का फंडाफोड़ हुआ। पुलिस ने इस मामले में 3 लोगो को गिरफ्तार किया है । बताया जा रहा है कि 19 राज्यो में इस प्रकार का रैकेट चल रहा है। जावरा सीएसपी आगम जैन ने बताया कि पुलिस एक मामले में जांच कर रही थी कि उसे एक ही आईएमआई से कई सिम चलने की सूचना मिली। इस पर पुलिस ने बारीकी से जांच पड़ताल की तो मामला सामने आया। पुलिस ने अभी तक एक मामले में 63 मोबाइल डिस्ट्रीब्यूटर ओर कस्टमर से जब्त कर लिए है । वही इस मामले में साइबर एक्सपर्ट की मदद से रतलाम ओर इंदौर में भी जानकारी जुटाई जा रही है।
अंतराज्यीय हो सकता है गिरोह     
एक ही आईएमईआई नंबर के कई मोबाइल चलने का फर्जीवाडा सामने आने के बाद अब पुलिस इसके पूरे नेटवर्क को खंगाल सकती है। सूत्रो के मुताबिक इंदौर के कारोबारी से दिल्ली तक का नेटवर्क भी मिल जाए। दरअसल यह सिर्फ धोखाधडी ही नही एक गंभीर अपराध भी है। क्योकि एक ही आईएमईआई नंबर से कई मोबाइल चलने के कारण पुलिस को हत्या, लूट, चोरी जैसे कई संगीन मामलो की पडताल में परेशानी आती है और आरोपी बच निकलते है।


रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

रतलाम। प्रदेश में नागरिकों की सुविधा के लिये लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के सभी चिकित्सालय में चिकित्सक सुबह 9 से शाम 4 बजे तक ओपीडी में मरीजों का उपचार करेंगे। ओपीडी में होने वाला पंजीयन शाम 3.30 बजे तक किसी भी स्थिति में बंद नहीं किया जायेगा। चिकित्सालयों में अब खून-पेशाब की जाँच एवं एक्स-रे की सुविधा के लिये पेथालॉजी लैब भी सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक खुली रहेगी। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा आज जारी आदेश में चिकित्सालयों के समय का पुनर्निर्धारण करते हुए चिकित्सालयों में अन्य व्यवस्थाओं एवं उपचार आदि की प्रक्रिया से जुड़े मेडिकल स्टॉफ की ड्यूटी के संबंध में विस्तृत निर्देश दिये गये हैं। चिकित्सालय में सुबह 9 से शाम 4 बजे तक ओपीडी के समय में दोपहर 1.30 से 2.15 तक भोजन अवकाश रहेगा।  
        सामान्य दिनों के साथ रविवार एवं अवकाश दिवसों में जिला एवं सिविल चिकित्सालयों में आपातकालीन ओपीडी 24 घंटे खुली रहेगी। सभी विशेषज्ञ और चिकित्सक सुबह 9 से 11 बजे तक अपने वार्डों में राउण्ड लेंगे। सप्ताह में यदि दो दिन का निरंतर शासकीय अवकाश होता है, तो उसमें से दूसरे अवकाश के दिन नियमित ओपीडी सुबह 9 से 11 बजे तक खुली रहेगी। चिकित्सालयों में निरंतर दो दिन नियमित ओपीडी बंद नहीं रहेगी। चिकित्सालयों में अन्तः रोगी विभाग सामान्य दिनों में वार्ड एवं पलंग के प्रभारी सभी चिकित्सक एवं विशेषज्ञ अपने-अपने वार्ड का राउण्ड इस प्रकार सुनिश्चित करेंगे कि ओपीडी सेवाएँ प्रभावित नहीं हों। 
शासकीय चिकित्सालयों में सुबह 9 से शाम 4 बजे तक ओपीडी, एक्स-रे, पैथालॉजी की सुविधा शुरू        आपातकालीन सेवाएँ जिला एवं सिविल चिकित्सालयों में चौबीस घंटे उपलब्ध रहेंगी। इन चिकित्सालयों में सुबह 8 से दोपहर 2 बजे, दोपहर 2 से रात्रि 8 बजे और रात्रि 8 से सुबह 8 बजे की तीन शिफ्ट रहेगी। इमरजेंसी में आने वाले किसी भी रोगी को (भले ही वह छोटी बीमारी/लक्षण के उपचार के लिये आया हो) जाँच एवं उपचार करने से मना नहीं किया जायेगा। चिकित्सालयों का जाँच (पेथालॉजी, एक्स-रे एवं बॉयोकेमिकल) विभाग भी सुबह 9 बजे से शाम 4 बजे तक खुला रहेगा। फास्टिंग सेम्पल कलेक्शन के लिये लेब टेक्नीशियन सुबह 8 बजे से उपस्थित रहेगा। सुबह 11 बजे तक लिये गये सेम्पल की रिपोर्ट उसी दिन दोपहर एक बजे तक और पूर्वान्ह 11 से दोपहर 2 बजे के बीच लिये गये सेम्पल्स की रिपोर्ट उसी दिन दोपहर 3 से शाम 4 बजे तक दी जायेगी। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा जारी आदेश में चिकित्सकों, विशेषज्ञों की ड्यूटी के संबंध में भी स्पष्ट एवं विस्तृत निर्देश दिये गये हैं, ताकि किसी मेडिकल एवं पैरामेडिकल स्टॉफ को परिवर्तित व्यवस्था से असुविधा नहीं हो।
रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

More From Web

Trending

[random][carousel1 autoplay]

Asha News

{picture#https://4.bp.blogspot.com/-YMIuSgSgens/XOKRBeMKtXI/AAAAAAAAWgk/ywHahz7uRxgec-Dk0dl5fwvZ-D5OxvtgQCK4BGAYYCw/s113/ashanews.jpg} Asha News

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.