Latest Post

रतलाम। जिले में शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस एवं प्रशासन  24 घंटे अलर्ट पर है। छोटी से छोटी घटना को लेकर भी अत्यंत संवेदनशीलता बरती जाएगी। मंगलवार देर शाम कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में एक वृहद बैठक आयोजित हुई। जहां राज्य शासन के निर्देश अनुसार कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान तथा पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी ने मौजूद अधिकारियों को आने वाले दिनों में कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए बिंदुवार निर्देशित किया।
     बैठक में जिले के सभी एसडीएम,  तहसीलदार,  थाना प्रभारी  से लेकर  सभी उन विभागों के अधिकारी भी  मौजूद थे,  जो  सूचना तंत्र में  अहम भूमिका  निभा सकते हैं। कलेक्टर व एसपी ने मैदानी स्तर पर सूचना तंत्र मजबूत करने के लिए आवश्यक हिदायत अधिकारियों को दी। सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील स्थानों पर विशेष चौकसी रखने के निर्देश दिए। किसी भी छोटी से छोटी घटना पर तत्काल एक्शन लेने, सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने वाले तत्वों, कानून व्यवस्था से खिलवाड़ करने वाले व्यक्तियों पर प्रभावी रूप से पूर्व प्रतिबंधात्मक कार्रवाई करने के निर्देश बैठक में दिए गए। कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने पुलिस और राजस्व अधिकारियों को प्रतिदिन की रिपोर्ट देने के निर्देश दिए। इस संबंध में रिपोर्ट प्राप्ति के लिए बैठक में मौजूद सीईओ जिला पंचायत श्री संदीप केरकेट्टा को ताकीद की। 
     सोशल मीडिया पर भी पैनी निगाह रखने के निर्देश सभी राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों को दिए गए। उन्हें संयुक्त पेट्रोलिंग के लिए कहा गया। अधिकारियों को बॉन्ड ओवर की कार्रवाई करने के साथ ही ज्वलनशील एवं विस्फोटक पदार्थों के संग्रहण। एलपीजी व केरोसिन के अवैध उपयोग पर सख्त निगरानी रखने के निर्देश दिए गए। प्रत्येक पंचायत में फर्स्ट एड बॉक्स रखने के लिए भी जनपदों को निर्देशित किया गया। सभी जनपदों के सीईओ बैठक में मौजूद थे। बैठक में आदिवासी विकास विभाग, नगर निगम, सहकारिता, स्वास्थ्य तथा अन्य विभागीय अधिकारी भी उपस्थित रहे।

ratlam news-कलेक्टर एसपी द्वारा वृहद बैठक आयोजित एसडीएम, तहसीलदार, थाना प्रभारी रहे उपस्थित

रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

रतलाम। शहर के मातृ एवं शिशु चिकित्सालय में अस्थाई पुलिस सहायता केंद्र प्रारंभ किया गया है। यहां की आवश्यकता को देखते हुए इस पुलिस सहायता केंद्र का आरंभ सोमवार शाम किया गया। कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान तथा पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी की उपस्थिति में डिप्टी कलेक्टर सुश्री शिराली जैन तथा सिविल सर्जन डा. आनंद चंदेलकर ने फीता काटकर सहायता केंद्र प्रारंभ किया, यहां 24 घंटे पुलिस की तैनाती रहेगी। केंद्र पर आवश्यक हेल्पलाइन तथा नंबर उपलब्ध रहेंगे।
कलेक्टर ने निरीक्षण किया
कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने मातृ एवं शिशु चिकित्सालय परिसर में भ्रमण कर विस्तृत निरीक्षण किया। उन्होंने बच्चों की गहन चिकित्सा इकाई तथा वार्ड देखें। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने सिविल सर्जन डॉ. चंदेलकर को निर्देशित किया कि चिकित्सालय में प्रत्येक बच्चे के लिए सिंगल बेड की व्यवस्था हो, मशीनें प्रत्येक समय चालू अवस्था में उपलब्ध रहें। कलेक्टर ने प्री-बोर्न वार्ड में और अधिक बेड की व्यवस्था के निर्देश सिविल सर्जन को दिए। साथ ही 24 घंटे डॉक्टर्स की उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा। बताया गया कि चिकित्सालय में गहन प्रसूता केयर यूनिट भी शीघ्र आरंभ की जाने वाली है।

Ratlam News-मातृ एवं शिशु चिकित्सालय में पुलिस सहायता केंद्र आरंभ

Ratlam News-मातृ एवं शिशु चिकित्सालय में पुलिस सहायता केंद्र आरंभ

रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

रतलाम। कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान के निर्देश पर जिले के अतिवृष्टि प्रभावित ग्रामीणों की मदद के लिए अधिकारियों, कर्मचारियों द्वारा तत्काल कार्रवाई की जा रही है। जावरा अनुविभाग के 8 गांवों में ग्रामीणों के घरों की मरम्मत के लिए एक करोड़ 42 लाख रूपए मंजूर कर दिए गए हैं। एसडीएम जावरा श्री एम.एल. आर्य ने बताया कि पिपलिया जोधा, ताराखेड़ी, बोरिया, रणायरा गुर्जर, मेहंदी, धत्तरावदा, रोला तथा किलगारी के 180 व्यक्तियों के घरो की दुरुस्ती हेतु 1 करोड़ 42 लाख रुपए की स्वीकृति राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 के तहत कलेक्टर श्रीमती  रुचिका चौहान द्वारा जारी की गई है।
     जिले में अतिवृष्टि से प्रभावित जावरा अनुविभाग के गांवों में  सोमवार को पुनः कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान तथा पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी पहुंचे प्रभावित ग्रामीणों से चर्चा की और ग्रामीणों से कहा कि प्रशासन प्रत्येक जरूरतमंद की मदद करेगा। कलेक्टर तथा एसपी ने ढोढर, पिपलिया जोधा, सरसोंदा, पीपलोदी तथा राणायरा गुर्जर पहुंचकर अतिवृष्टि से हुए नुकसान का आकलन किया। साथ आए शासकीय अमले को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। कलेक्टर ने क्षतिग्रस्त मकानों की मरम्मत तत्काल शुरू करने तथा फसलों के नुकसान का आकलन करने के लिए तेजी से कार्य करने की ताकीद की। कलेक्टर श्रीमती चौहान ने ग्राम पिपलौदी में ग्रामीणों के लिए पेयजल व्यवस्था हेतु पानी के टैंकर की व्यवस्था के निर्देश एसडीएम को दिए।
फसल क्षति होने पर किसान बीमा कंपनी के टोल फ्री नंबर पर कॉल कर सकते हैं
अतिवृष्टि से फसल खराब होने पर जिले के किसान बीमा कंपनी के टोल फ्री नंबर 180030024088 पर कॉल कर सकते हैं इसके अलावा 7650893705 पर भी कॉल कर सकते हैं। बीमा कंपनी के जिला स्तर पर श्री राजकिशोरसिंह के मोबाइल नंबर 9304196987 पर कॉल कर सकते हैं। जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के महाप्रबंधक श्री आलोक जैन ने बताया कि जिले में तहसील स्तरों पर भी नुकसानी की सूचना दी जा सकती है। 
  • तहसील रतलाम में 930500 1390, 
  • तहसील आलोट में श्री आनंद शुक्ला 8318490738, 
  • तहसील बाजना में श्री जगदीश शर्मा 9450945711, 
  • तहसील जावरा में श्री बसंत कुमार 99204 72683, 
  • तहसील पिपलोदा में श्री विशालसिंह 89487 20642, 
  • तहसील सैलाना में श्री कमलेश यादव 76074 43835, 
  • तहसील रावटी में श्री सुरेश जाट 89623 5850 तथा 
  • तहसील ताल में श्री विनोद कुमार के मोबाइल नंबर 8839 73308 पर कॉल की जा सकती है।
Ratlam News-अतिवृष्टि प्रभावित 180 ग्रामीणों के घरों की मरम्मत के लिए एक करोड़ 42 लाख रुपए मंजूर
Ratlam News-अतिवृष्टि प्रभावित 180 ग्रामीणों के घरों की मरम्मत के लिए एक करोड़ 42 लाख रुपए मंजूर
रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

रतलाम। कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान के निर्देश पर खाद्य प्रतिष्ठानों का निरीक्षण सतत जारी है। इस क्रम में 26 अगस्त को जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में खाद्य एवं औषधि प्रशासन के दल द्वारा विभिन्न प्रतिष्ठानों का निरीक्षण कर खराब खाद्य सामग्री नष्ट कराई गई साथ ही प्रयोगशाला में भेजे जाने के लिए नमूने भी लिए गए।
    रतलाम ग्रामीण एसडीएम श्री प्रवीण फुलपगारे के नेतृत्व में दल द्वारा महू-नीमच रोड स्थित सातरुण्डा चौराहा एवं ग्राम लोचीतारा पर स्थित होटल एवं किराना स्टोर का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान राजेश्वरी रेस्टोरेंट, होटल सांई पैलेस से बर्फी, कुकिंग, मिडियम एवं पनीर का नमूना जांच हेतु लिया गया। राजेश्वरी रेस्टोरेट पर मानव उपयोग के लिए संग्रहित पैकेज ड्रिंकिंग वाटर की कुल 12 बोतले, थम्सअप, कार्बोनेट वाटर की 12 बोतले, एप्पी फ्रिज एपल जूस की 13 बोतले, लिम्का वाटर की 1 बोतल, हेल्थ प्लस मैंगों की 1 बोतल, मोरधन 500 ग्राम के 10 पैकेट, जलजीरा पावडर 200 ग्राम के 12 पैकेट, मिर्ची के 5 पैकेट, गुड 4 किलो, पतासे 30 किलो, साबुदाना 1 किलो सभी खराब होने से एवं होटल सांई पैलेस से सेवन अप की 6 बोतले तथा बेस्ट बिफोर डेट के बाद की संग्रहित खाद्य सुरक्षा अधिनियम की धारा 26 अन्तर्गत विनिष्टिकरण करवाया, जिसकी कुल कीमत 2630 रुपए है। 
    दल में श्री आर.आर. सोलंकी, श्रीमती प्रीति मण्डोरिया एवं यशवंत कुमार शर्मा आदि थे। इसी प्रकार की कार्रवाई एव नमूना संग्रहण का कार्य रतलाम, रतलाम ग्रामीण, जावरा, आलोट एवं सैलाना में निरन्तर जारी रहेगा।   

Continued inspection of food establishments in the district on the instructions of the collector- कलेक्टर के निर्देश पर जिले में खाद्य प्रतिष्ठानों का निरीक्षण सतत जारी

रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

रतलाम। जिले में भी स्वतंत्रता दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। स्कूली बच्चों द्वारा प्रभात फेरी निकाली गई। रतलाम में आयोजित मुख्य समारोह में कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान द्वारा मुख्य अतिथि के रूप में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली गई। कलेक्टर द्वारा खुली जीप में सवार होकर परेड का निरीक्षण किया गया। उनके साथ पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी भी थे। मुख्य अतिथि ने प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के संदेश का वाचन भी किया। इस दौरान पुलिस, होमगार्ड, एसएएफ, एनसीसी, स्काउट दलों द्वारा आकर्षक मार्च पास्ट किया गया, परेड का नेतृत्व रक्षित निरीक्षक श्री के.एस. कंवर ने किया।         
    हर्ष फायर हुआ। शांति, उन्नति, समृद्धि के प्रतीक गुब्बारे छोड़े गए। राष्ट्रगान, मध्यप्रदेश गान हुआ। मुख्य अतिथि द्वारा स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों तथा शहीद के  परिवार का  सम्मान किया गया।
    कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष श्री प्रमेश मईडा, विधायक रतलाम ग्रामीण श्री दिलीप मकवाना, नगर निगम नेता प्रतिपक्ष श्रीमती यास्मीन शेरानी, डीआईजी श्री गौरव राजपूत, अपर कलेक्टर श्रीमती जमुना भिड़े, श्री राजेश भरावा, श्री पारस सकलेचा, श्री डी.पी. धाकड़,  नागरिकगण, अधिकारी, कर्मचारी, स्कूली बच्चे आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम में देशभक्ति से ओतप्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति स्कूली बच्चों द्वारा दी गई। उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारियों कर्मचारियों तथा अशासकीय व्यक्तियों को सम्मानित भी किया गया। 
          इस अवसर पर मुख्य अतिथि द्वारा मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के संदेश वाचन किया गया। मुख्यमंत्री ने अपने संदेश में जय किसान फसल ऋण माफी योजना के तहत प्रथम चरण में 20 लाख 10 हजार किसानों के 50 हजार रुपए तक के चालू ऋण तथा 2 लाख रुपए तक के डिफाल्टर ऋण को माफ करने, द्वितीय चरण में 2 लाख रुपए तक के सहकारी बैंकों के चालू ऋण माफ करने की कार्रवाई प्रारम्भ करने, अन्य बैंकों की छानबीन पूरी होने पर आगे उनकी भी ऋण माफी कार्रवाई करने, रबि में उत्पादित गेहूं विक्रय पर 160 रुपए प्रति क्विंटल की प्रोत्साहन राशि देने, प्रदेश में पहली बार 1 हजार गौशालाओं का निर्माण हाथ में लेने, किसानों को आधी दरों पर बिजली और गरीबों को 100 रुपए में 100 यूनिट बिजली देने, प्रदेश की औद्योगिक इकाईयों को 70 प्रतिशत रोजगार प्रदेश के लोगों को ही देने सम्बन्धी कानून बनाने, युवाओं को रोजगार एवं स्वरोजगार के लिए बनाई गई योजनाओं आदि जिक्र किया गया। इसके अलावा हर जिले में एक औद्योगिक क्षेत्र स्थापित करने की योजना, असंगठित मजदूरों के लिए नया सवेरा योजना, वृद्धजनों, निराश्रितों, दिव्यांगों आदि को दी जाने वाली पेंशन राशि में बढोत्तरी, मुख्यमंत्री कन्या विवाह-निकाह योजना की राशि में वृद्धि, जनअधिकार कार्यक्रम और साथ ही सभी आदिवासी विकासखण्डो में आदिवासी भाईयों के ऊपर सभी साहूकारी ऋणों को समाप्त घोषित करने के निर्णय का जिक्र किया। मुख्यमंत्री ने राज्य शासन की अन्य योजनाओं एवं कार्यक्रमों की भी जानकारी दी।
      स्वतंत्रता दिवस मुख्य समारोह में आयोजित परेड में 24 वीं बटालियन, एसएएफ ए कम्पनी रतलाम को प्रथम, एनसीसी सीनियर डिविजन गर्ल्स शा. कला एवं विज्ञान महाविद्यालय को द्वितीय तथा शौर्य दल को तृतीय एवं बालक शा. उत्कृष्ट मा.वि. सागोद रोड को सांत्वना पुरस्कार दिया गया। इसी प्रकार सांस्कृतिक कार्यक्रमों के तहत मार्निंग स्टार स्कूल को प्रथम, गुरु तेग बहादुर स्कूल को द्वितीय तथा कन्या उ.मा.वि. को तृतीय पुरस्कार दिया गया। रतलाम पब्लिक स्कूल को सांत्वना पुरस्कार दिया गया। कार्यक्रम का संचालन श्री आशीष दशोत्तर तथा डा. पूर्णिमा शर्मा ने किया।

स्वतंत्रता दिवस पर धोंसवास स्कूल में बच्चों के साथ मध्यान्ह भोजन किया गया
    स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर जिले में भी स्कूली बच्चों को विशेष मध्यान भोजन दिया गया। इस अवसर पर कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान, डीआईजी श्री गौरव राजपूत, पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी द्वारा जिले के ग्राम धोंसवास के शासकीय  हायर सेकेंडरी  स्कूल में  विद्यार्थियों के साथ  मध्यान्ह भोजन किया गया। इस अवसर पर जिला सरपंच संघ अध्यक्ष श्री अभिषेक शर्मा, ग्राम पंचायत की सरपंच श्रीमती कविता निनामा भी उपस्थित थी।


रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें


सैलाना, रतलाम। राज्य शासन आदिवासियों की बेहतरी के लिए दृढ़ संकल्पित होकर कार्य कर रहा है। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने छिंदवाड़ा में आयोजित कार्यक्रम द्वारा आदिवासी समुदाय को कई सौगातें दी है। आदिवासी परिवार अपने उज्जवल भविष्य के लिए बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान देवें। यह बात विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर जिले के सैलाना में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बोलते हुए स्थानीय विधायक श्री हर्षविजय गहलोत ने कही। इस अवसर पर जनपद पंचायत उपाध्यक्ष श्री रूप  भगोरा, कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान, पुलिस अधीक्षक श्री गौरव तिवारी, एसडीएम श्रीमती कामिनी ठाकुर तथा बड़ी संख्या में आदिवासी समुदाय उपस्थित था। विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर जिले के बाजना तथा बिरमावल में भी कार्यक्रम आयोजित किए गए।  
    सैलाना में विधायक श्री हर्ष विजय गहलोत ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि जनसंख्या बढ़ने के साथ ही परिवारों के पास कृषि भूमि का आकार निरंतर छोटा होता जा रहा है, इसलिए आदिवासी समाज मात्र खेती पर ही निर्भर नहीं रहे  बल्कि अपने भविष्य के लिए बच्चों की शिक्षा और दिक्षा पर महत्वपूर्ण रूप से ध्यान देवें। वर्तमान समय में शिक्षा का सबसे ज्यादा महत्व है। आदिवासी समुदाय प्रकृति से जुड़ा है इस समुदाय ने सदैव प्रकृति की रक्षा की है समुदाय को जल जंगल जमीन के साथ ही संस्कृति को भी सहेज कर रखना है।
      कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ द्वारा विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर छिंदवाड़ा में आयोजित कार्यक्रम में दिए गए। उद्बोधन का सीधा प्रसारण एलईडी के माध्यम से देखा सुना गया। इस अवसर पर आदिवासी समुदाय के प्रतिभावान बच्चों को पुरस्कृत  किया गया। जनजाति गीत, नृत्य आदिवासी युवाओं द्वारा प्रस्तुत किए गए। कुरीतियों के विरुद्ध नाटक का मंचन भी आदिवासी बच्चों द्वारा किया गया।

vishwa-aadiwasi-diwas-ratlam-राज्य शासन आदिवासियों की बेहतरी के लिए दृढ़ संकल्पित - विधायक श्री गहलोतvishwa-aadiwasi-diwas-ratlam-राज्य शासन आदिवासियों की बेहतरी के लिए दृढ़ संकल्पित - विधायक श्री गहलोत

vishwa-aadiwasi-diwas-ratlam-राज्य शासन आदिवासियों की बेहतरी के लिए दृढ़ संकल्पित - विधायक श्री गहलोत
रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें

More From Web

Trending

[random][carousel1 autoplay]

Asha News

{picture#https://4.bp.blogspot.com/-YMIuSgSgens/XOKRBeMKtXI/AAAAAAAAWgk/ywHahz7uRxgec-Dk0dl5fwvZ-D5OxvtgQCK4BGAYYCw/s113/ashanews.jpg} Asha News

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.