फ़रवरी 2020

रतलाम। रतलाम नगर निगम परिसर में महिलाओं द्वारा संचालित किए जाने वाले तेजस्वी कैफे का शुभारंभ बुधवार को कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान, श्रीमती यास्मीन शेरानी द्वारा फीता काटकर किया गया। राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन से जुड़ी 10 महिलाओं द्वारा संचालित किए जा रहे तेजस्वी कैफे में स्वल्पाहार तथा भोजन उचित दरों पर आमजन को मिल सकेगा। इस कैफे के जरिए गरीब कमजोर वर्गों की महिलाएं अपनी आत्मनिर्भरता और समृद्धि की ओर अग्रसर हुई है। तेजस्वी कैफे के लिए नगर निगम द्वारा महिला समूह को रेंट पर स्थान उपलब्ध कराया गया है। कैफे के लिए फर्नीचर, बर्तन तथा अन्य सामग्री महिला समूह द्वारा अपनी बचत राशि से जुटाई गई है। समूह के अध्यक्ष सफिया कुरेशी है, सचिव हेमलता मिश्रा है। 
         सदस्यों में आशा मंडावरा, सोनम प्रजापति, लता जायसवाल, योगिता, शीला गवई, पिंकी दुबे, परवीन खान तथा तस्लीम खान सम्मिलित हैं। यह सभी महिलाएं रतलाम के नयागांव क्षेत्र की रहने वाली है। कैफे का संचालन सुबह 9:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक किया जाएगा। यहां पर चाय, कचोरी, समोसा, नमकीन, मिठाई इत्यादि के अलावा उचित दर पर भोजन की व्यवस्था भी रहेगी। शुभारंभ अवसर पर सहायक कलेक्टर सुश्री तपस्या परिहार, श्री राजेश पुरोहित, श्री शेरू पठान भी उपस्थित थे। इस अवसर पर कलेक्टर श्रीमती रुचिका चौहान ने बताया कि जिले में गरीब एवं कमजोर वर्गों की महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में आगे बढ़ाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं। जिला पंचायत परिसर में भी स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा पंचायत केफे संचालित किया जा रहा है। इस कड़ी में आगे और भी कार्य किए जाएंगे।



रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें
और पड़े
शेयर

रतलाम। मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना अंतर्गत आगामी 26 फरवरी को रतलाम से यात्री जाएंगे। यात्रा के लिए आवेदन देने की अंतिम तिथि 20 फरवरी है। रतलाम से 200 यात्री सम्मिलित होंगे। सीईओ जिला पंचायत श्री संदीप केरकेट्टा ने बताया की योजना के तहत वरिष्ठ नागरिक जो 60 वर्ष से अधिक आयु के हैं जो आयकरदाता नहीं है, पात्र होंगे। पूर्व में यात्रा हेतु जिन व्यक्तियों का चयन नहीं हुआ है, उनके आवेदन पत्र यथावत रहेंगे और भविष्य में होने वाली इन्हीं स्थानों की यात्रा के लिए उन व्यक्तियों को पुनः आवेदन करने की आवश्यकता नहीं होगी। व्यक्ति केवल यह आवेदन देगा कि वह नवीन तिथि जिसके लिए लाटरी निकाली जा रही है, पर यात्रा करने हेतु सहमत है। पूर्व के आवेदन पत्रों, नवीन आवेदन पत्रों को सम्मिलित कर नवीन यात्रा के लिए लाटरी निकाली जाएगी। आवेदन निकटतम तहसील, स्थानीय निकाय, जनपद कार्यालय पर जमा किए जा सकेंगे। यात्रियों के स्वास्थ्य परीक्षण हेतु एक शासकीय डाक्टर की ड्यूटी लगाना सुनिश्चित किया जाएगा। ड्यूटी डाक्टर यदि चाहे तो अपनी पत्नी को यात्रा में साथ ले जा सकते हैं। डाक्टर एवं उनकी पत्नी आवंटित कोटे में सम्मिलित नहीं माने जाएंगे। डाक्टर का मोबाइल नम्बर आईआरसीटीसी को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करेंगे।
           यदि जिले को आवंटित निर्धारित कोटे से अधिक आवेदन प्राप्त होते हैं तो ऐसी स्थिति में यात्रियों का चयन कम्प्यूटराईज्ड लाटरी द्वारा किया जाएगा। निर्धारित कोटे से 10 प्रतिशत अतिरिक्त तीर्थ यात्रियों की पृथक से सूची तैयार करेंगे। किसी कारण से कतिपय तीर्थ यात्री यात्रा में जाने में असमर्थ रहते हैं तो ऐसी स्थिति में प्रतीक्षा सूची के अनुक्रम अनुसार तीर्थ यात्रियों को यात्रा पर भेजे जा सकते हैं। इसी प्रकार किसी जिले को आवंटित यात्रियों का कोटा पूर्ण नहीं होने पर उसे अन्य जिले की प्रतीक्षा सूची, प्राप्त आवेदनों में पूर्ति की जा सकेंगी। 65 वर्ष से अधिक आयु के पति-पत्नी यदि साथ यात्रा कर रहे हैं तो उन्हें भी अनुरक्षक साथ ले जाने की पात्रता है। इसी प्रकार दिव्यांग (60 प्रतिशत विकलांग) व्यक्ति भी इस यात्रा हेतु पात्र है (बशर्ते कि वह यात्रा करने हेतु अन्यथा सक्षम है) तथा उस पर आयु बंधन लागू नहीं होगा। दिव्यांग (60 प्रतिशत विकलांग) व्यक्ति को भी अनुरक्षक साथ ले जाने की पात्रता है।

Ratlam News- वैष्णो देवी के लिए रतलाम से 26 फरवरी को तीर्थ यात्रा रवाना होगी

रतलाम जिले की हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए हमारा Facebook पेज लाइक करें
और पड़े
शेयर

प्रायोजित लिंक्स

# ट्रेंडिंग

[random][carousel1 autoplay]

Asha News

{picture#YOUR_PROFILE_PICTURE_URL} YOUR_PROFILE_DESCRIPTION

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.